Law Blog

Dying Declaration | Applicability In Criminal Cases | Section 32 of CPC 1908

Dying Declaration Dying declaration is admitted in evidence. The principle on which it is admitted as evidence is indicated in the legal maxim ‘nemomoriturus prae-sumitur mentire’ which means a man will not meet his maker with a lie in his mouth….

Blog

Will Rogers : Introduction and Brief biography

Introduction to Will Rogers Will Rogers, a prominent figure in American history, was not only a humorist and entertainer but also a keen observer of society. Born in 1879, Rogers left behind a legacy of wit and wisdom that continues…

संविधान

अनुच्छेद 88 क्या है | article 88 in hindi

अनुच्छेद 88 क्या है | article 88 in hindi अनुच्छेद 88. सदनों के बारे में मंत्रियों और महान्यायवादी के अधिकार – प्रत्येक मंत्री और भारत के महान्यायवादी को यह अधिकार होगा कि वह किसी भी सदन में, सदनों की किसी…

संविधान

अनुच्छेद 82 क्या है | article 82 in hindi

अनुच्छेद 82 क्या है | article 82 in hindi अनुच्छेद 82. प्रत्येक जनगणना के पश्चात् पुनः समायोजन – प्रत्येक जनगणना की समाप्ति पर राज्यों को लोक सभा में स्थानों के आबंटन और प्रत्येक राज्य के प्रादेशिक निर्वाचन क्षेत्रों में विभाजन…

Law Blog

विधिशास्त्र की उत्पत्ति और विकास

विधिशास्त्र की उत्पत्ति सभी विधिवेत्ता इस बात से सहमत हैं कि विधिशास्त्र की उत्पत्ति किसी युग-विशेष में या व्यक्ति विशेष से नहीं हुई है बल्कि यह शास्त्र क्रमिक गति से विकसित हुआ है। इसके विकास में असंख्य विधिशास्त्रियों का सक्रिय…

Law Blog

राज्य की उत्पत्ति के सिद्धांत | Theory Of Origin Of The State 

राज्य की उत्पत्ति विद्वानों के लिए राज्य की उत्पत्ति सदैव ही जिज्ञासा का विषय रही है। राज्य की उत्पत्ति (Origin of The State) के विषय में कोई भी प्रमाणिक साक्ष्य या ऐतिहासिक साक्ष्य नहीं मिलता है जिससे यह ज्ञान होता हो कि…

IPC

आईपीसी धारा 44 क्या है | Ipc Section 44 in Hindi

आईपीसी धारा 44 क्या है   धारा 44 “क्षति” – “क्षति” शब्द किसी प्रकार की अपहानि का द्योतक है, जो किसी व्यक्ति के शरीर, मन, ख्याति वा सम्पत्ति को अध रूप से कारित हुई हो।   IPC 1860 – Click

IPC

आईपीसी धारा 43 क्या है | Ipc Section 43 in Hindi

आईपीसी धारा 43 क्या है   धारा 43. “अवैध” – “करने के लिए वैध रूप से आबद्ध ” – “अवैध” शब्द हर उस बात को लागू है, जो अपराध हो, या जो विधि द्वारा प्रतिषिद्ध हो, या जो सिविल कार्यवाही…

IPC

आईपीसी धारा 49 क्या है | Ipc Section 49 in Hindi

आईपीसी धारा 49 क्या है धारा 49. “वर्ष” या “मास” – जहां कहीं “वर्ष” शब्द या “मास” शब्द का प्रयोग किया गया है वहां यह समझा जाना है कि वर्ष या मास की गणना ब्रिटिश कलैंडर के अनुकूल की जानी…

IPC

आईपीसी धारा 16 क्या है | Ipc Section 16 in Hindi

आईपीसी धारा 16 क्या है धारा 16. “गवर्नमेंट आफ इण्डिया” की परिभाषा — भारत शासन (भारतीय विधि अनुकूलन) आदेश, 1937 द्वारा निरसित। IPC 1860 – Click